************************************* QR code of mobile preview of your blog Page copy protected    against web site content infringement by CopyscapeCreative Commons License
-------------------------

Subscribe to Hindi-Bharat by Email

आवागमन/उपस्थिति


View My Stats

हाय ओए रब्बा नईयों लगदा दिल मेरा

आज यहाँ पहली प्रस्तुति के रूप में आप सुन पाएँगे एक बहुत लोकप्रिय गीत " हाय ओए रब्बा नईयों लगदा दिल मेरा"संगीत व आवाज़ के जादू के साथ इस गीत में छिपे भाव का आनंद लीजिए। और हाँ, अपनी राय भी देते जाइयेगा की कैसी लगी आपको यह प्रस्तुति।



हाय ओए रब्बा नईयों लगदा दिल मेरा हाय ओए रब्बा नईयों लगदा दिल मेरा Reviewed by Kavita Vachaknavee on Monday, April 13, 2009 Rating: 5

13 comments:

  1. हिंदी ब्लॉग की दुनिया में आपका तहेदिल से स्वागत है...

    ReplyDelete
  2. प्रथम चयन - बढिया चयन!

    ReplyDelete
  3. बहुत बढिया!धन्यवाद।

    ReplyDelete
  4. cool
    welcome to blogger's world
    Pawan Mall
    apexlerning.blogspot.com

    ReplyDelete
  5. kavita ji , aapka naya chittha bahut khoobsoorat hai , padhkar achha laga

    ReplyDelete
  6. बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

    ReplyDelete
  7. Swagat hai,
    Kabhi yahan bhi aayen
    http://jabhi.blogspot.com

    ReplyDelete
  8. इस खूबसूरत गीत को सुनवाने का आभार।

    ReplyDelete
  9. ''स्वर-चित्रदीर्घा''
    हर दृष्टि से आपकी सुरुचि का दर्पण है.

    याद आया ,
    'साहित्य संगीत कला विहीनः
    साक्षात पशु: पुच्छविषाणहीनः'.

    संस्कृति के विविधविध संरक्षण के प्रयासों के लिए
    भूरि-भूरि प्रशंसा!

    ReplyDelete
  10. धन्यवाद मित्रो! आभारी हूँ।

    ReplyDelete

आपकी सार्थक प्रतिक्रिया मूल्यवान् है। ऐसी सार्थक प्रतिक्रियाएँ लक्ष्य की पूर्णता में तो सहभागी होंगी ही,लेखकों को बल भी प्रदान करेंगी।। आभार!

Powered by Blogger.